रेखांकन और चार्ट

ट्रेडिंग सत्र क्या हैं?

ट्रेडिंग सत्र क्या हैं?

Muhurat Trading 2022: दीपावली पर शेयर बाजारों में 1 घंटे के लिए होगी मुहूर्त ट्रेडिंग, जानें समय, इसका महत्व और बाकी डिटेल

हिंदू संवत वर्ष 2079 (Samvat 2079) की शुरुआत के पहले दिन दीपावली (Diwali 2022) पर भारतीय शेयर बाजार शाम सवा 6 बजे से सवा 7 बजे तक एक घंटे ‘मुहूर्त ट्रेडिंग (Muhurat Trading)’ के लिए खुले रहेंगे

हिंदू संवत वर्ष 2079 (Samvat 2079) की शुरुआत के पहले दिन दीपावली (Diwali 2022) पर सोमवार 24 अक्टूबर को प्रमुख शेयर बाजार बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) में एक घंटे का विशेष कारोबारी सत्र होगा, जिससे ‘मुहूर्त ट्रेडिंग (Muhurat Trading)’ कहा जाता है।

दोनों शेयर बाजारों ने अलग-अलग सर्कुलर में बताया कि यह कारोबारी सत्र शाम को 6:15 PM से 7:15 PM के बीच होगा। ब्लॉक डील सेशन शाम 5.45 से शाम 6 बजे तक होगा और प्री-ओपनिंग सेशन शाम 6 बजे से शाम 6.08 बजे के बीच होगा।

दिवाली और लक्ष्मी पूजन के कारण इस दिन नियमित ट्रेडिंग बंद रहेगी। शेयर बाजार बस Muhurat Trading के लिए शाम में एक घंटे के लिए खुलेंगे। यह एक प्रतीकात्मक और पुरानी परंपरा है जिसे ट्रेडिंग कम्युनिटी ने पिछले 100 सालों से अधिक समय से बनाए रखा है और इसे हर साल मनाते हैं। ऐसी मान्यता है कि ‘मुहूर्त’ के दौरान सौदे करना शुभ होता है और यह वित्तीय समृद्धि लाता है।

संबंधित खबरें

इंडियन मार्केट पर क्या मंदी का RISK है?

Daily Voice| इन दो सेक्टर में निवेश आपको मालामाल कर देगा, श्रीराम लाइफ के अजीत बनर्जी ने बताई वजह

Nykaa का बोनस इश्यू, निवेशकों के साथ धोखा!

ऑनलाइन ब्रोकरेज फर्म अपस्टॉक्स (Upstox) के डायरेक्टर पुनीत माहेश्वरी ने न्यूज एजेंसी से पीटीआई से बातचीत में कहा, "किसी भी नई चीज की शुरुआत करने के लिए दीपावली को सबसे अच्छा वक्त माना जाता है। बाजार में निवेशकों का सेंटीमेंट पॉजिटिव है और विभिन्न सेक्टर्स में खरीदारी हो रही है। माना जाता है कि इस सत्र के दौरान खरीदारी करने पर निवेशक को सालभर लाभ मिलता है।"

उन्होंने कहा कि यह सत्र केवल एक घंटे का है इसलिए नए कारोबारियों को इस दौरान सतर्कता बरतनी चाहिए क्योंकि बाजार में उतार-चढ़ाव आता रहता है।

Sanctum Wealth में प्रॉडक्ट एंड सॉल्यूशंस के को-हेड मनीष जेलोका ने कहा कि संवत 2078 के दौरान (पिछली दिवाली से इस दिवाली तक) भारतीय शेयर बाजारों ने ग्लोबल बाजारों की तुलना में काफी अच्छा प्रदर्शन किया था और इसे संवत 2079 में भी जारी रहने की उम्मीद है। भारतीय शेयर बाजारों में 26 अक्टूबर को भी दिवाली बालिप्रतिपदा ट्रेडिंग सत्र क्या हैं? के मौके पर कारोबार बंद रहेगा।

आज सपाट बंद हुआ शेयर बाजार

इस बीत संवत के आखिरी दिन आज यानी शुक्रवार 21 अक्टूबर को बाजार फ्लैट बंद हुआ। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 104.25 अंक यानी 0.18 फीसदी की बढ़त के साथ 59,307.15 के स्तर पर बंद हुआ। वही निफ्टी 12.30 अंक यानी 0.07 फीसदी की बढ़त के साथ 17,576.30 के स्तर पर बंद हुआ।

बैंकिंग शेयरों में शानदार तेजी देखने को मिली। नतीजों के बाद एक्सिस बैंक 10% चढ़ा । वहीं कंज्यूमर गुड्स, मेटल शेयरों पर दबाव देखने को मिला। ब्रॉडर मार्केट पर नजर डालें तो आज मिडकैप, स्मॉलकैप शेयरों में बिकवाली रही। बीएसई का मिड कैप इंडेक्स 0.75 फीसदी की गिरावट के साथ 24,805.15 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं स्मॉलकैप इंडेक्स 0.60 फीसदी टूटकर 28,566.82 के स्तर पर बंद हुआ।

Diwali 2022: क्या है Muhurat Trading का समय? एक घंटे के लिए आज होगी Share Market में स्पेशल ट्रेडिंग

Muhurat Trading on Diwali: दिवाली न केवल अपनी भव्यता और वैभव के लिए जाना जाता है बल्कि व्यापारियों और निवेशकों के लिए भी एक महत्वपूर्ण अवसर है. यही कारण है कि स्टॉक एक्सचेंज इस अवसर पर एक घंटे का ट्रेडिंग सत्र आयोजित करते हैं, ट्रेडिंग सत्र क्या हैं? जिसे मुहूर्त ट्रेडिंग के रूप में जाना जाता है.

alt

5

alt

5

alt

5

alt

5

Diwali 2022: क्या है Muhurat Trading का समय? एक घंटे के लिए आज होगी Share Market में स्पेशल ट्रेडिंग

Muhurat Trading Timing: दिवाली (Diwali) का त्योहार हर किसी के लिए खास होता है. भारत में दिवाली को बड़े त्योहार के रूप में देखा जाता है. वहीं निवेशकों के लिए भी दिवाली काफी मायने रखती है. जो निवेशक शेयर बाजार में निवेश करते हैं वो इस दिन मुहूर्त ट्रेडिंग का काफी इंतजार करते हैं. दरअसल, हर साल दिवाली के दिन शेयर बाजार एक घंटे के लिए खुलता है और उस दौरान मुहूर्त ट्रेडिंग (Muhurat Trading) का आयोजन किया जाता है. निवेशक दिवाली के दिन शेयर बाजार में Muhurat Trading के मौके पर ट्रेडिंग करना काफी शुभ मानते हैं. इस साल भी एक घंटे के लिए शेयर बाजार में Muhurat Trading का आयोजन किया जाएगा.

मुहूर्त ट्रेडिंग

दिवाली भारत में सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है. यह त्योहार बुराई पर अच्छाई और अंधकार पर प्रकाश की जीत का प्रतीक है. यह न केवल अपनी भव्यता और वैभव के लिए जाना जाता है बल्कि व्यापारियों और निवेशकों के लिए भी एक महत्वपूर्ण अवसर है. यही कारण है कि स्टॉक एक्सचेंज इस अवसर पर एक घंटे का ट्रेडिंग सत्र आयोजित करते हैं, जिसे मुहूर्त ट्रेडिंग के रूप में जाना जाता है.

नए वर्ष की शुरुआत

भारत दुनिया का एकमात्र देश है जहां इस तरह का विशेष Trading Session आयोजित किया जाता है. यह पारंपरिक हिंदू कैलेंडर वर्ष विक्रम संवत की शुरुआत का भी प्रतीक है. इस साल दिवाली के दिन यानी 24 अक्टूबर को Muhurat Trading का आयोजन किया जा रहा है.

Diwali Muhurat Trading Session Timings
Pre-Market Open- 6:00 PM
Nomral Market Open- 6:15 PM
Normal Market Close- 7:15 PM
Set up cut-off time for Position Limit/ Collateral value- 7:25 PM
Trade modification end time- 7:25 PM

मुहूर्त ट्रेडिंग के दौरान रखें ध्यान
हालांकि यह ट्रेडिंग के लिए सबसे अच्छा समय माना ट्रेडिंग सत्र क्या हैं? जाता है, लेकिन यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि किसी को भी बिना सोचे-समझे स्टॉक नहीं खरीदना चाहिए. मुहूर्त ट्रेडिंग के दौरान स्टॉक खरीदने से पहले हमेशा उचित रिसर्च करने की सलाह दी जाती है. यह अवसर साल में एक बार आता है और लोगों को इस मौके का समझदारी से इस्तेमाल करना चाहिए.

पूरे साल बाजार को रहता है इस खास सत्र का इंतजार, जानिए मुहूर्त ट्रेडिंग से जुड़ी खास बातें

दीवाली के दिन आज शाम एक घंटे की विशेष मुहूर्त ट्रेडिंग होगी. दीवाली के साथ नए साल की शुरुआत भी होती है ऐसे में शुभ मुहूर्त में कारोबार की शुरुआत कर कारोबारी कामना करते हैं कि नया साल अच्छा बीते

पूरे साल बाजार को रहता है इस खास सत्र का इंतजार, जानिए मुहूर्त ट्रेडिंग से जुड़ी खास बातें

TV9 Bharatvarsh | Edited By: सौरभ शर्मा

Updated on: Oct 24, 2022 | 9:52 AM

दीवाली के दिन ट्रेडिंग सत्र क्या हैं? जिस समय हर कोई अपने परिवार वालों के साथ पूजा की तैयारी कर रहा होता है और बाजार में खुली दुकाने और मॉल भी अपना दिन का काम खत्म कर कारोबार बंद करने के जल्दी में होते हैं ठीक उसी वक्त देश का एक सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण बाजार खुलने की तैयारी कर रहा होता है और इस बाजार से जुड़े लोग पूरे उत्साह के साथ इस कारोबार में शामिल होते हैं. ये बाजार है भारत का शेयर बाजार और दीवाली के दिन शेयर बाजार में खास वक्त पर मुहूर्त ट्रेडिंग होती है. करीब एक घंटे का ये विशेष सत्र दीवाली की शाम को आयोजित किया जाता है.

आज शाम भी मुहूर्त ट्रेडिंग का आयोजन किया जा रहा है. आज के दिन मुहूर्त ट्रेडिंग शाम 6:15 से 7:15 तक एक घंटे के लिए होगी. ये सत्र देश की संपन्न कारोबारी परंपरा का विशेष हिस्सा है ऐसे में आज हम आपको इससे जुड़ी ट्रेडिंग सत्र क्या हैं? खास बाते बताने जा रहे हैं.

क्या है मुहूर्त ट्रेडिंग

कारोबार जगत में दीवाली के दिन से नए साल की शुरुआत मानी जाती है. वहीं दीवाली का पर्व धन धान्य और समृद्धि की कामना से भी जुड़ा है. ऐसे में शेयर बाजार नए साल यानि संवत 2079 की शुरुआत इस दिन के शुभ मुहूर्त में करता है. जिसके साथ वो कामना करता है कि आने वाला साल धन धान्य और समृद्धि से भरा हुआ हो. मुहूर्त ट्रेडिंग घरेलू शेयर बाजार की परंपरा का सबसे अहम हिस्सा है. सबसे पहले साल 1957 में बाजार ने मुहूर्त ट्रेडिंग की शुरुआत की तब से अब तक ये सिलसिला लगातार चला आ रहा है.

कैसा रहता है इस दिन कारोबार

शेयर बाजार का प्रदर्शन कई फैक्टर से जुड़ा होता है. हालांकि आम तौर पर मुहूर्त ट्रेडिंग पर कारोबार सीमित दायरे में ही रहता है. और इस दिन बड़े सौदे कम ही देखने को मिलते हैं. दरअसल मुहूर्त ट्रेडिंग का महत्व परंपरा के साथ जुड़ा है और निवेशक इसे कारोबारी नजरिए से नहीं देखते. बाजार अगर इस दिन बढ़त के साथ बंद होता है तो माना जाता है आने वाला साल अच्छी कमाई का साबित होगा. पिछले साल मुहूर्त ट्रेडिंग पर सेंसेक्स ने 60 हजार का स्तर पार किया था. शेयर बाजार में पिछले 6 दिन से बढ़त का रुख देखने को मिला है ऐसे में उम्मीद है कि इस साल मुहूर्त ट्रेडिंग में भी बढ़त दर्ज होगी.

ये भी पढ़ें

धनतेरस पर देश भर के व्यापारियों को इस साल हुआ अच्छा मुनाफा, इतने रुपए का हुआ कारोबार

धनतेरस पर देश भर के व्यापारियों को इस साल हुआ अच्छा मुनाफा, इतने रुपए का हुआ कारोबार

IRCTC : भारतीय रेलवे यात्रियों को मुफ्त में दे रहा ये सर्विस, इन लोगों को मिलेगा लाभ

IRCTC : भारतीय रेलवे यात्रियों को मुफ्त में दे रहा ये सर्विस, इन लोगों को मिलेगा लाभ

EPFO कर्मचारियों को 60 दिनों की सैलरी के बराबर मिलेगा दिवाली बोनस, जानिए कौन है पात्र?

EPFO कर्मचारियों को 60 दिनों की सैलरी के बराबर मिलेगा दिवाली बोनस, जानिए कौन है पात्र?

धनतेरस-दिवाली पर सोने में इस तरह भी कर सकते हैं निवेश, कम खर्च के साथ टैक्स सेविंग का भी मिलेगा बेनेफिट

धनतेरस-दिवाली पर सोने में इस तरह भी कर सकते हैं निवेश, कम खर्च के साथ टैक्स सेविंग का भी मिलेगा बेनेफिट

क्या है मुहूर्त ट्रेडिंग से जुड़ी खास बातें

मुहूर्त ट्रेडिंग से जुड़ी कई मान्यताएं है जो दिग्गज निवेशक कभी न कभी बता चुकें हैं. ये सारी मान्यताएं देश के बड़े कारोबारी समाज में आम हैं. जैसे की देश में कारोबारियों का एक खास वर्ग दीवाली के दिन प्रॉफिट बुकिंग नहीं करता है क्योंकि इस दिन घर पैसा ले जाना शुभ नहीं माना जाता है ऐसे में रिटर्न कितना भी मिले वो बाजार में ही बने रहते हैं. वहीं कई कारोबारी हर हाल में इस दिन कुछ न ट्रेडिंग सत्र क्या हैं? कुछ निवेश करते हैं. क्योंकि इस दिन खरीद करने को शुभ माना जाता है. भले ही बाजार के संकेत कैसे भी हों और खरीद नाम मात्र की क्यों न हो. वहीं कुछ कारोबारी कोशिश करते हैं कि शुभ शुरुआत के रुप में इस दिन कुछ न कुछ कमाई की जाए भले ही वो कितनी ही छोटी क्यो न हो.

Muhurat Trading: दिवाली पर शेयर बाजारों में एक घंटे के लिए होगा मुहूर्त ट्रेडिंग, निवेशक मानते हैं इसे शुभ

दलाल स्ट्रीट स्थित बीएसई बिल्डिंग (फोटो क्रेडिट-Wikimedia Commons)

Diwali Muhurat Trading 2022: दिवाली के मौके पर मुहूर्त ट्रेडिंग की परंपरा लंबे समय से चली आ रही है. निवेशक साल भर इस दिन का इंतजार करते हैं.

  • पीटीआई
  • Last Updated : October 22, 2022, 08:35 IST

हाइलाइट्स

दिवाली का त्योहार शेयर बाजार और निवेशकों के लिए बेहद खास रहता है.
शेयर बाजार में दिवाली पर मुहूर्त ट्रेडिंग की परंपरा काफी पुरानी है.
दिवाली पर निवेश को बेहद शुभ माना जाता है.

नई दिल्ली. हिंदू संवत वर्ष 2079 की शुरुआत के पहले दिन दीपावली पर सोमवार को प्रमुख शेयर बाजार बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) में एक घंटे का विशेष कारोबारी सेशन ‘मुहूर्त ट्रेडिंग’ (Muhurat Trading 2022) होगा. शेयर बाजारों में दिवाली के दिन भले ही छुट्टी रहती है, लेकिन इस दिन बाजार एक घंटे के लिए खुलता है.

दोनों शेयर बाजारों ने अलग-अलग सर्कुलर में बताया कि यह सांकेतिक कारोबारी सेशन शाम को 6:15 बजे से 7:15 बजे के बीच होगा. ऐसी मान्यता है कि ‘मुहूर्त’ के दौरान लेन-देन करना शुभ होता है और यह वित्तीय समृद्धि लाता है. मुहुर्त ट्रेडिंग ट्रेडिंग सत्र क्या हैं? के दौरान शेयर के अलावा जिंस वायदा, मुद्रा वायदा, शेयर वायदा एवं विकल्प जैसे क्षेत्रों में भी कारोबार होगा.

नई चीज की शुरुआत करने के लिए दिवाली को माना जाता है शुभ
अपस्टॉक्स (Upstox) में डायरेक्टर पुनीत माहेश्वरी ने कहा कि किसी भी नई चीज की शुरुआत करने के लिए दीपावली को सबसे अच्छा वक्त माना जाता है. बाजार में धारणा सकारात्मक है और विभिन्न क्षेत्रों में खरीदारी हो रही है. माना जाता है कि इस सेशन के दौरान खरीदारी करने पर निवेशक को सालभर लाभ मिलता है. उन्होंने कहा कि यह सत्र केवल एक घंटे का है इसलिए नए कारोबारियों को इस दौरान सतर्कता बरतनी चाहिए क्योंकि बाजार में उतार-चढ़ाव आता रहता है.

संवत 2079 में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद
सेंकटम वेल्थ (Sanctum Wealth) में प्रोडक्ट्स एंड सॉल्यूशंस के को-हेड मनीष जेलोका ने कहा कि संवत 2078 के दौरान भारतीय शेयर बाजारों ने वैश्विक बाजारों की तुलना में कहीं अच्छा प्रदर्शन किया था जो संवत 2079 में भी जारी रहने की उम्मीद है.

बैंक, कैपिटल गुड्स, मैन्युफैक्चरिंग से जुड़ी कंपनियों के शेयरों का प्रदर्शन अच्छा रहने की उम्मीद
कोटक महिंद्रा एसेट मैनेजमेंट कंपनी के ग्रुप प्रेसिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर नीलेश शाह ने कहा कि संवत 2079 के दीपावली जैसा रहने की संभावना है. बैंक, कैपिटल गुड्स, मैन्युफैक्चरिंग से जुड़ी कंपनियों के शेयरों का प्रदर्शन अच्छा रहने की उम्मीद है. साथ ही टेक और फॉर्मा क्षेत्र में भी दिलचस्प अवसर मिल सकता है है.

26 अक्टूबर को बंद रहेंगे शेयर बाजार
शेयर बाजार 26 अक्टूबर को बलिप्रतिपदा (Diwali Balipratipada) के अवसर पर बंद रहेंगे.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Stock Market Closing: संवत 2079 के पहले ट्रेडिंग सत्र में लौटी मुनाफावसूली, गिरावट के साथ बंद हुए शेयर बाजार

Share Market Update: ग्लोबल संकेतों के चलते भारतीय शेयर बाजार में गिरावट देखी गई. सेंसेक्स 287 निफ्टी 74 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ है.

By: ABP Live | Updated at : 25 Oct 2022 03:56 PM (IST)

Stock Market Closing On 25th October 2022: संवत 2079 का पहला कारोबारी सत्र भारतीय शेयर बाजार और उसके निवेशकों के लिए निराशाजनक रहा है. शेयर बाजार में मुनाफावसूली के चलते दोनों ही प्रमुख इंडेक्स गिरावट के साथ बंद हुए. मुंबई स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स 287 अंकों की गिरावट के साथ 59,543 तो नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 74 अंकों की गिरावट के साथ 17,656 अंकों पर बंद हुआ है. बुधवार को शेयर बाजार में छुट्टी है और इसके चलते कारोबार नहीं होगा.

सेक्टर का हाल
आज के कारोबारी सत्र में आईटी, ऑटो, सरकारी बैंकों, फार्मा, मेटल्स, ऑयल एंड गैस जैसे सेक्टर के शेयरों में तेजी रही वहीं बैंकिंग, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स, एनर्जी, मीडिया जैसे सेक्टर के शेयरों में गिरावट रही. स्मॉल कैप के शेयरों में जहां गिरावट रही वहीं मिडकैप के शेयरों में तेजी देखी गई. निफ्टी के 50 शेयरें में 21 शेयर हरे निशान में बंद हुआ है तो 29 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए. सेंसेक्स के 30 शेयरों में 10 शेयर तेजी के साथ बंद हुआ तो 20 शेयरों में गिरावट रही है.

चढ़ने वाले शेयर
आज का कारोबार खत्म होने पर जिन शेयरों में तेजी रही उनपर नजर डालें तो टेक महिंद्रा 3.39 फीसदी, मारुति सुजुकी 2.78 फईसदी, लार्सन 1.98 फीसदी, डॉ रेड्डी 1.52 फीसदी, एसबीआआ 1.37 फीसदी, एनटीपीसी 1.14 फीसदी, महिंद्रा 0.81 फीसदी, इंफोसिस 0.57 ट्रेडिंग सत्र क्या हैं? फीसदी, अल्ट्राटेक सीमेंट 0.42 फीसदी की तेजी के साथ बंद हुआ है.

गिरने वाले शेयर
गिरावट वाले शेयरों पर नजर डालें तो नेस्ले 2.83 फीसदी, एचयूएल 2.71 फीसदी, बजाज फिनसर्व 2.55 फीसदी, कोटक महिंद्रा 2.52 फीसदी, एचडीएफसी 1.59 फीसदी, रिलायंस 1.53 फीसदी, बजाज फाइनैंस 1.44 फीसदी, एशियन पेंट्स 1.18 फीसदी, इंडसइंड बैंक 0.83 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है. आज के ट्रेडिंग सत्र में बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 275.62 लाख करोड़ रुपये रहा है.

News Reels

ये भी पढ़ें

Published at : 25 Oct 2022 03:36 PM (IST) Tags: Share Market Update Diwali 2022 Samvat 2079 Stock Market Closing On 25th October 2022 हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: Business News in Hindi

रेटिंग: 4.63
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 577
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *